ताइक्वांडो इंटरनेशनल खिलाड़ी बच्चों ने बनाए मास्क

 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाषणों से प्रेरणा लेकर ताईक्वांडो के टीन एजर बच्चों ने अपने गुल्लक के पैसों से गरीबों के लिए मास्क बनाने का बीड़ा उठा लिया है अभी तक लगभग 100 मास्क यह बना कर बाट चुके है और 500 मास्क बनाने का इनका लक्ष्य है, अंतरराष्ट्रीय स्तर के इन खिलाड़ियों ने अपने रिश्ते के भाई-बहनों को भी इस काम में लगाया है। वी ओ : अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो बाल वर्ग में स्वर्ण पदक विजेता अंश श्रीवास्तव (11) और उसकी बहन आंशी श्रीवास्तव (13) ने हम उम्र चचेरे—ममेरे भाई—बहनों और दोस्तों के साथ मिलकर घर में ही फेस मास्क बनाना शुरू किया है। वी ओ : बहराइच के अंश ने वर्ष 2016 में काठमांडू में हुयी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में ताइक्वांडो बाल वर्ग में स्वर्ण पदक और 2017 में भूटान में कांस्य पदक जीता था। अंश की बहन आंशी ने वर्ष 2016 में काठमांडू और 2017 में भूटान में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया था। दोनों बच्चों को प्रधानमंत्री कार्यालय से प्रशस्ति पत्र भी मिल चुका है। वी ओ : यह बच्चे सिर्फ बड़ो नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी छोटे साइज़ के मास्क बना रहे हैं और इनका मानना है कि छोटे मास्क की ज्यादा मांग है, यह बच्चे जो भी मास्क बना रहे उसका किसी से पैसा नहीं ले रहे हैं यह दूध वाले, फल वाले और सब्जी वाले सभी को पूर्णतया निशुल्क मास्क दे रहे हैं। वी ओ : इन बच्चों की मुखिया अंशी के पापा आलोक श्रीवास्तव खुद शूटिंग के खिलाड़ी रहे हैं और उन्होंने बच्चों की इस ख्वाहिश में पूरा सहयोग किया है, मास्क बनाने में लगने वाले पूरे मैटेरियल को बाजार से लाने की व्यवस्था आलोक श्रीवास्तव ने की है।


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image