तहसीलदार ने भाजपा सांसद पर लगाया मारपीट करने का आरोप
कन्नौज .....सदर तहसील परिसर स्थित अपने आवास में मौजूद तहसीलदार अरविंद कुमार पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया और बुरी तरह से उनको मारा पीटा। ऐसे में हंगामा सुनकर तहसील कर्मी और सुरक्षा कर्मी पहुंचे तो मौका देख कर हमलावर भाग निकले। 

-घटनाक्रम के अनुसार भाजपा सांसद सुब्रत पाठक की ओर से नायब तहसीलदार को कुछ लोगों के नाम की एक सूची दी गई थी और यह कहा गया था कि सूची में जिन लोगों के नाम दर्ज हैं उनको राशन दिया जाए। ऐसे में उन नाम के लोगों के वेरीफिकेशन का काम किया जा रहा था। इस बीच मंगलवार की दोपहर भाजपा सांसद ने फोन कर तहसीलदार से पूछा कि सूची वाले लोगों को राशन क्यों नहीं दिया गया तो तहसीलदार ने वेरीफिकेशन कराने की बात बता दी। इससे सांसद बौखला गए और फोन पर ही उनसे गाली-गलौज करते हुए धमकी देने लगे कि अभी तहसील में ही आकर ठीक कर दूंगा। धमकी भरा फोन आने की सूचना तहसीलदार अरविंद कुमार ने एसडीएम सदर शैलेष कुमार को बताई तो उन्होंने आफिस से हट जाने के लिए तहसीलदार को बोल दिया। जिसके बाद तहसीलदार आॅफिस छोडकर तहसील परिसर स्थित अपने आवास पर चले गए। कुछ ही देर में उनके आवास पर भाजपा सांसद और उनके 20 से 25 समर्थक पहुंच गए। तहसीलदार का आरोप है कि सांसद और उनके समर्थक घर के दरवाजे पीटने लगे, जिससे उनकी बेटी और पत्नी डर गईं। ऐसे में कहीं भाजपाई अंदर घुसकर पत्नी और बच्चों के साथ अभद्रता न करने लगे, यह सोचकर वह घर से बाहर निकल आए। जैसे ही वह बाहर आये तो सांसद ने उन पर थप्पड चला दिया और देखते ही देखते समर्थकों ने उनके साथ लात-घूसों से पिटाई कर दी। इस मामले की जानकारी मिलते ही डीएम राकेश कुमार मिश्रा, एसपी अमरेंद्र प्रसाद, एसडीएम सदर शैलेश कुमार फोर्स के साथ तहसीलदार के आवास पर पहुंच गए। लेकिन उससे पहले ही हमला करने वाले भाजपाई वहां से निकल गए। अधिकारियों ने पूरे मामले की जानकारी ली और फिर तहसीलदार का मेडिकल परीक्षण कराने के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। मामले को लेकर एसडीएम शैलेष कुमार ने बताया कि हमलावरों को पहचान कर उनके खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई जाएगी और कडी कानूनी कार्रवाही होगी

Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
बाबा हरि शंकर दास जी महाराज कि पुण्य स्मृति
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
रिक्त पदों पर पंचायत उपचुनाव का जायजा लेने पहुंचे डीएम व एसपी
Image
चिन्मयानंद केसः पीड़िता की जमानत याचिका पर सुनवाई टली, पीड़िता के वकील ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप