राहुल-प्रियंका के काफिले ने पुलिस पर गाड़ी चढ़ाने का किया प्रयास, बाल-बाल बचे सीओ और इंस्पेक्टर

कांग्रेस महासचिव और प्रियंका गांधी आज दोपहर मेरठ हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार से मुलाकात करने के लिए जा रहे थे कि उन्हें शहर से बाहर परतापुर थानाक्षेत्र की मोहिउद्दीनपुर पुलिस चौकी पर ही रोक लिया गया।



इस दौरान राहुल और प्रियंका के काफिले ने सीओ पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया। इस दौरान सीओ और एक इंस्पेक्टर बाल-बाल बचे। हालांकि पुलिस ने दोनों नेताओं को शहर में प्रवेश नहीं करने दिया गया जिसके बाद वे वापस दिल्ली लौट गए।



सीओ ब्रह्मपुरी चक्रपाणि त्रिपाठी ने बताया कि कि राहुल-प्रियंका के मेरठ पहुंचने की सूचना पर परतापुर क्षेत्र में पुलिस फोर्स को अलर्ट कर दिया गया था। इस दौरान सीओ ब्रह्मपुरी चक्रपाणि त्रिपाठी खुद और इंस्पेक्टर परतापुर आनंद मिश्रा पुलिसफोर्स के साथ मेरठ मोदीपुरम सीमा पर खड़े थे, ताकि दोनों नेताओं को मेरठ में प्रवेश करने से रोका जा सके।
पुलिस द्वारा रुकने का इशारा करने पर भी एस्कॉर्ट ने गाड़ी नहीं रोकी और आगे बढ़ते रहे। बताया गया कि गाड़ी आगे बढ़ते ही सीओ और इंस्पेक्टर पीछे हो गए अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। हालांकि बाद में पुलिस फोर्स ने एस्कॉर्ट और काफिले की अन्य गाड़ियों का पीछा किया जिसके बाद परतापुर थाने के पास बैरियर लगाकर राहुल-प्रियंका के काफिले की सभी गाड़ियों को रोका गया।




Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image