सब इंस्पेक्टर लाइन हाजिर, विभागीय जांच के आदेश
मुरादाबाद। भोजपुर थानाक्षेत्र के पीपलसाना गांव में हुई मारपीट के मामले में कार्रवाई न करना उप निरीक्षक को महंगा पड़ गया। एसएसपी ने शिकायत मिलने पर दरोगा को लाइन हाजिर कर उसके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दे दिए हैं।
पीपलसाना निवासी अब्दुल सत्तार ने 27 अक्तूबर को भोजपुर थाने एक तहरीर दी थी। जिसमें उसने आरोप लगाया था कि 26 अक्तूबर को उसके भाई इजहार हुसैन और भतीजे शुएब के साथ पुराने विवाद को लेकर गाली गलौच और मारपीट व जान से मारने की धमकी दी गई है। पुलिस ने इस मामले में तहसीन, शमीम, नईम और नूर के खिलाफ एनसीआर दर्ज कर ली थी। इस मामले की विवेचना उप निरीक्षक मनोज कुमार को दी गई थी। दरोगा द्वारा इस मामले में मेडिकल रिपोर्ट प्राप्त की गई, लेकिन अभी तक मेडिकल सप्लीमेंट्री रिपोर्ट अभी तक प्राप्त नहीं की गई है। जबकि इजहार हुसैन को मेडिकल रिपोर्ट में धारदार हथियार से चोट आना अंकित है। विवेचक दरोगा मनोज कुमार को इस मामले की एनसीआर को एक माह बाद भी केस में तरमीम नहीं किया गया। जबकि एसएसपी ने इस मामले में पहले ही कार्रवाई के आदेश दिए थे। एसएसपी अमित पाठक ने उप निरीक्षक मनोज कुमार को कर्तव्य के प्रति लापरवाही व अनुशासनहीनता बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया है। जबकि दरोगा के खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए गए हैं।

Popular posts
स्वामी जगजीवन दास के अस्ताने पर जमा हुई हजारों श्रद्धालुओं की भीड़
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image