मेडिकल यूनिवर्सिटी के कर्मचारियों की मांगे मानी
इटावा। सैफई चिकित्सा विवि प्रशासन ने कर्मचारियों, डॉक्टरों की सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने जैसी मांगें सभी मांगें मान ली गई हैं। अब अगले महीने से खातों में बढ़े भत्ते की राशि पहुंचने लगेगी।
इससे पहले सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू न होने पर सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी के रेजिडेंट डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ ने तीसरे दिन बृहस्पतिवार को काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन किया। दरअसल, 50 दिन पूर्व कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद भी सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी के रेजिडेंट डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ एवं अन्य कर्मचारियों के भत्ते लागू नहीं हो सके हैं। इससे चलते डॉक्टर और कर्मचारी आक्रोशित हैं।
बृहस्पतिवार को यूनिवर्सिटी के प्रशासनिक अधिकारियों ने संयुक्त रूप से तीनों एसोसिएशन के अध्यक्षों के बीच वार्ता कर उनकी सभी शर्तें मान ली हैं। आश्वासन दिया गया कि भत्तों की फाइल अनुमोदन के लिए भेजी जा चुकी है। यूनिवर्सिटी प्रशासन ने लिखित आदेश जारी कर दिया है। अगले महीने से भत्ते सभी कर्मचारियों के खाते में आ जाएंगे।
बैठक में रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन अध्यक्ष डॉ अभिनव गंगवार, डा. नीरज यादव, कंबाइंड एसोसिएशन के महामंत्री योगेश यादव, राघवेंद्र गिरी, उमेश सिसौदिया, संतोष मौर्य तथा तमाम पदाधिकारी शामिल हुए।

Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image