खनन घोटाले में एक और आईएएस अफसर सीबीआई के रडार पर
प्रदेश में अब तक समाने आ चुके 900 करोड़ के अधिक के खनन घोटाले में सीबीआई के रडार पर एक और आईएएस अफसर आ गए हैं। वह हमीरपुर में 2009 से 2012 के दौरान जिलाधिकारी थे। उनके कार्यकाल में खनन के पट्टों के आवंटन में अनियमितताएं सामने आ चुकी हैं। 

पिछले कुछ दिनों से हमीरपुर में डेरा डाले बैठी जांच एजेंसी ने खनन से संबंधित 2012 के दस्तावेज हमीरपुर के डीएम से तलब किए हैं। गौरतलब है कि इस दौरान 2005 बैच के आईएएस अफसर हमीरपुर के डीएम थे और मौजूदा समय अंतर्राज्यीय प्रतिनियुक्ति पर दूसरे राज्य में तैनात हैं।
सीबीआई ने इस मामले में बुधवार को अपने कैंप कार्यालय में खनन घोटाले के आरोपी सपा एमएलसी रमेश मिश्र व उनके बड़े भाई दिनेश मिश्र से करीब तीन घंटे पूछताछ की। एमएलसी के मुनीम रहे जयकरन साहू का भी बयान दर्ज किया। 
साथ ही खनिज विभाग के दफ्तर में छानबीन के बाद सीबीआई ने डीएम व एडीएम से मुलाकात कर वर्ष 2012 में हुए मौरंग के पट्टों के दस्तावेज मांगे। सूत्रों की माने तो इसी कड़ी में सीबीआई ने उक्त आईएएस अफसर के विषय में जानकारी जुटानी शुरू कर दी है।

Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image