हीरा कारोबारी उदय देसाई के सहयोगियों का चिट्ठा खंगाल रही सीबीआई
कानपुर के हीरा कारोबारी उदय देसाई ने 14 बैंकों से लिए कर्ज का निवेश अपनी कंपनियों को चलाने के अलावा उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में अलग अलग प्रोजेक्टों में भी किया है। इन प्रोजेक्टों का संचालन देसाई के सहयोगी और साझेदार अलग अलग नामों से कर रहे हैं, लेकिन इनमें कहीं भी उदय देसाई का नाम दर्ज नहीं है
सीबीआई की जांच में इस बिंदु को भी शामिल किया है। अब सीबीआई की टीमें उन प्रोजेक्टों की तलाश के लिए सहयोगियों और साझेदारों का चिट्ठा खंगाल रही हैं। जांच एजेंसी का सबसे बड़ा सवाल ये है कि 3435 करोड़ रुपये की रकम आखिर डूबी कैसे। बताया जा रहा है कि कई राज्यों में करीब एक दर्जन प्रोजेक्टों में इनका कई सौ करोड़ रुपये का निवेश हुआ है।

कानपुर और कानपुर के बाहर अन्य राज्यों में भी देसाई के कारोबार के कई साझेदार हैं। शहर के कई कारोबारी घोषित तौर पर तो कुछ अघोषित तौर पर देसाई के साथी हैं। देसाई के घर और ऑफिसों से मिले दस्तावेजों के आधार पर ऐसे लोगों की सूची तैयार की जा रही है। शहर के दर्जन भर से अधिक बड़े लोग सीबीआई की नजर में हैं।
जल्द ही इन्हें भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है। बैंकों के सूत्र बताते हैं कि जांच एजेंसी को पुख्ता सबूत मिले तो लोन की रकम खपाने वाले प्रोजेक्टों को अटैच भी किया जा सकता है। गिरफ्तारी भी संभव है।



Popular posts
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
धोखाधड़ी कर फ़र्ज़ी नाम से फ़ाइनेंस कराकर मोटरसायकिल बेचने वाले दो अभियुक्त गिरफ़्तार , 77 बाइक बरामद
Image
कृषि सूचना तंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम एवं नेशनल फूड सिक्यारिटी मिशन
Image
The sword of india news paper
Image
स्वच्छता के प्रति जागरूक सफाई कर्मी  लाक डाउन के प्रति हम क्यो नही    
Image