चंडीगढ़ की सस्ती शराब लगा रही हिमाचल को चूना, पढ़ें पूरा मामला
चंडीगढ़ में कम टैक्स के चलते सस्ती बिक रही शराब ने हिमाचल को दोहरी परेशानी में डाल दिया है। चंडीगढ़ की सस्ती शराब की वजह से हिमाचल में न सिर्फ अवैध शराब की तस्करी की समस्या बढ़ी है, बल्कि प्रदेश को इससे राजस्व का भी नुकसान उठाना पड़ रहा है। सस्ती शराब के इस दोहरे नुकसान को झेल रहे हिमाचल ने अब चंडीगढ़ के प्रशासन को पत्र लिखकर टैक्स बढ़ाने की मांग की है। प्रधान सचिव आबकारी संजय कुंडू ने इस संबंध में प्रशासक को पत्र भी लिख दिया है।

दरअसल, चंडीगढ़ में देसी शराब पर एक्साइज ड्यूटी 48 से 63 रुपये प्रति लीटर है, जबकि हिमाचल में यही एक्स डिस्टिलरी प्राइस पर एक्साइज ड्यूटी 62 से 74 रुपये प्रति लीटर है। विदेशी शराब पर चंडीगढ़ में 300 रुपये व हिमाचल में 484 रुपये प्रति लीटर एक्साइज टैक्स और विदेशी बीयर पर चंडीगढ़ में 33 रुपये, जबकि हिमाचल में 67 रुपये प्रति लीटर एक्साइज टैक्स लगता है। एक्साइज टैक्स के इसी बड़े अंतर का असर देसी-विदेशी शराब की कीमत पर पड़ रहा है। इसकी वजह से प्रदेश में चंडीगढ़ से शराब तस्करी बढ़ी है।
इस वजह से हिमाचल को राजस्व का भारी नुकसान हो रहा है। प्रमुख सचिव कुंडू ने बताया कि हाल में हुई उत्तर क्षेत्र परिषद की बैठक के दौरान भी हिमाचल ने यह मुद्दा उठाया था। अब पत्र लिखकर चंडीगढ़ के प्रशासक से मांग की गई है वह टैक्स के इस अंतर को खत्म करने के लिए कदम उठाए, ताकि अवैध तस्करी और राजस्व नुकसान की दोहरी मार से हिमाचल को राहत मिल सके। बता दें, इस नुकसान के बावजूद पिछले साल की तुलना में हिमाचल का आबकारी से राजस्व 180 करोड़ रुपये बढ़ा है। 

Popular posts
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
धोखाधड़ी कर फ़र्ज़ी नाम से फ़ाइनेंस कराकर मोटरसायकिल बेचने वाले दो अभियुक्त गिरफ़्तार , 77 बाइक बरामद
Image
कृषि सूचना तंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम एवं नेशनल फूड सिक्यारिटी मिशन
Image
The sword of india news paper
Image
स्वच्छता के प्रति जागरूक सफाई कर्मी  लाक डाउन के प्रति हम क्यो नही    
Image