बहेड़ी में भाजपा की महिला नेता को दो गोलियां मारीं

बहेड़ी । भाजपा नेता व महिला ग्राम प्रधान संतोष भारती को बुधवार दोपहर दिनदहाड़े बाइक सवार दो हमलावरों ने पीछे से पीठ में दो गोलियां मार दीं। हमलावर सीने में गोली मारने को झुके पर पीछे से यूपी 112 की गाड़ी आने पर बाइक छोड़कर फरार हो गए। संतोष को गंभीर हालत में भोजीपुरा के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। बेटे ने पुरानी रंजिश बताकर चार लोगों पर रिपोर्ट कराई है। पुलिस ने इनमें से दो को पकड़ा भी है। संतोष मौजूदा प्रधान होने के साथ ही पूर्व में जिला पंचायत सदस्य रह चुकी हैं। एसएसपी ने घटनास्थल का मुआयना किया।
गरीबपुरा गांव की प्रधान संतोष भारती दोपहर साढ़े बारह बजे घर से स्कूटी पर ब्लॉक जाने को निकली थीं। वह कस्बे से दो किमी दूर जाजूनागर मोहल्ले में फौजी के मकान के सामने पहुंचीं तो पीछे से काले रंग की प्लेटिना बाइक पर आए दो युवकों ने करीब से बाइक लगाकर तमंचे से गर्दन के नीचे गोली मार दी। दूसरे युवक ने बाइक रोककर पीठ पर ही दूसरी गोली मारी। प्रधान चिल्लाकर स्कूटी सहित गिर पड़ीं। तब हमलावर झुके और तमंचा लोड कर प्रधान के सीने में गोली दागने की कोशिश की। इस बीच पीछे से यूपी 112 की गाड़ी नंबर 183 आती दिखी तो वे बाइक छोड़कर पास में स्थित नाले को कूदकर भाग खडे़ हुए। पीआरवी पर तैनात सिपाही विजय कुमार ने बदमाशों को ललकारते हुए पीछा किया तो एक हमलावर ने भागते हुए ही तमंचा लोड कर सिपाही पर तान दिया। सिपाही ने पीछा जारी रखा तो हमलावर तंग गलियों का फायदा उठाकर फरार हो गए। यूपी 112 ने संतोष को तत्काल गाड़ी में डाला और सीएचसी लाई। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद बरेली रेफर कर दिया। गंभीर हालत में प्रधान ने गांव के ही कुछ लोगों के नाम बताए। प्रधान के पुत्र कमल ने जमीन व प्रधानी के चुनाव को लेकर रंजिश बताकर चार लोगों पूर्व प्रधान नत्थू सिंह, पूर्व कोटेदार छेदालाल, मलकीत सिंह और राजीव पर हत्या का शक जताकर रिपोर्ट कराई। पुलिस ने छेदालाल और नत्थू सिंह को हिरासत में पूछताछ शुरू कर दी है। एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने घटनास्थल का मुआयना किया। जल्द खुलासा करने और एसपी देहात को मौके पर रहकर कार्रवाई कराने के निर्देश दिए।
- प्रधान के बेटे ने चार लोगों पर रिपोर्ट कराई है। इनमें से दो से पूछताछ की जा रही है। दोनों काफी बुजुर्ग हैं। हमले में सीधा हाथ होना संभव नहीं लग रहा। इनकी भूमिका पर जांच की जा रही है। एक नामजद राजीव की भूमिका संदिग्ध है। मौके पर जो बाइक मिली वह राजीव के भाई जयंत के नाम है। दोनों ही विजय चौधरी के बेटे हैं जिनसे प्रधान का विवाद चल रहा था। जल्दी ही स्थिति साफ हो जाएगी।

Popular posts
स्वामी जगजीवन दास के अस्ताने पर जमा हुई हजारों श्रद्धालुओं की भीड़
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image