बच्चों को कंपाने लगा सरकारी इंतजाम का इंतजार
अमरोहा। बेसिक शिक्षा परिषद के जिम्मेदार बच्चों के जीवन के प्रति बेपरवाह बने हुए हैं। नवंबर में चंद दिन बाकी है, बावजूद बच्चों को स्वेटर बांट नहीं सके हैं। दो दिन से मौसम बदल गया है। ठंड के साथ बारिश भी शुरू हो गई है इसके चलते कक्षाओं में बच्चे ठिठुरते दिखे। वर्क ऑर्डर में स्वेटर की सप्लाई में देरी होने पर कटौती का प्रावधान है।
जिले के परिषदीय स्कूलों में 1,14,274 छात्र-छात्राएं नामांकित हैं। इसमें सभी को उनकी साइज का स्वेटर दिया जाना है। इसके लिए 200 रुपये कीमत रखी गई हालांकि सबसे कम कीमत वाली फर्म को सप्लाई का ठेका दिया गया। विभाग ने 13 नवंबर तक स्वेटर की सप्लाई का दावा किया था। बावजूद इसके स्वेटर की सप्लाई शत प्रतिशत नहीं हो सकी है। दो दिन से मौसम बदल गया है। बारिश के साथ ठंड भी बढ़ गई है। स्कूल जाने वाले बच्चों की संख्या में कमी आ गई है। विभाग का दावा है कि नगर अमरोहा, नगर हसनपुर और धनौरा ब्लॉक क्षेत्र में स्वेटर की सप्लाई कर दी गई है।
बीएसए ऑफिस के बगल का स्कूल, पढ़ाई के दौरान ठिठुरते रहे बच्चे
अमरोहा। बेसिक शिक्षा विभाग अपने कार्यालय के बगल के स्कूल के बच्चों को भी स्वेटर नहीं दिला सका है। शहर के पीरगढ़ मोहल्ले मेें प्राथमिक स्कूल हैं। यहां पर कक्षा एक से पांचवीं तक पढ़ाई होती है। गुरुवार को दिन में 11 बजे स्कूल खुला मिला। बच्चे अपनी कक्षा में पढ़ते हुए दिखे। कुछ बच्चे पिछले वर्ष का स्वेटर पहने हुए दिखे, जबकि अधिकांश छात्र-छात्राएं बगैर स्वेटर के आए थे। कक्षा चार के छात्र शाहरुख ने बताया कि स्वेटर नहीं मिला है। ठंड लग रही है। पढ़ाई में छूट न जाऊं इसके लिए स्कूल में आया हूं। कक्षा तीन की छात्रा पूनम ने कहा कि कई बार पूछे हैं स्वेटर कब आएगा। शिक्षक ने कहा है कि जब आएगा तो बांट देंगे। कक्षा तीन की छात्रा प्रिया ने बताया कि स्वेटर की उम्मीद में आए स्वेटर मिल जाए तो ठंड नहीं लगेगी। कक्षा पांच के अर्पित ने कहा कि जमीन पर बैठ कर पढ़ाई करते हैं। शिक्षक ने बताया है कि स्वेटर जल्द मिल जाएगा।

Popular posts
स्वामी जगजीवन दास के अस्ताने पर जमा हुई हजारों श्रद्धालुओं की भीड़
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image