अयोध्या में नमाज के बाद मस्जिदों से अपील, दोनों पक्ष करें फैसले का सम्मान
अयोध्या में रामजन्मभूमि पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर शुक्रवार को मस्जिदों से शांति व सौहार्द बनाए रखने की अपील की गई है। जुमे की नमाज के बाद मस्जिद के इमाम ने कहा कि मामले पर जो भी फैसला आए उसका सम्मान करें। उन्होंने कहा कि अयोध्या गंगा जमनी तहजीब की मिसाल है। इसे बचाना हम सभी का कर्तव्य है। वहीं, फैसले को लेकर अब प्रशासन व सुरक्षा एजेंसियों का अगला कदम शुरू हो गया है।

बृहस्पतिवार को अतिसंवेदनशील विवादित परिसर के पीछे मिश्रित आबादी वाले मोहल्लों की सड़कें-गलियां बल्लियों से सील की जा रही हैं। यहां से पैदल भी सड़क पर आने का रास्ता नहीं छोड़ा जा रहा है। घरों में कैद होने को मजबूर दोनों समुदाय के लोगों में अनहोनी की आशंकाएं बढ़ रही हैं। वे अब बड़े-बुजुर्ग व बच्चों को सुरक्षित रखने के साथ खाने-पीने व जरूरत के सामान जुटाने को प्राथमिकता देने लगे हैं।
चौदहकोसी व पंचकोसी परिक्रमा समाप्त होते ही बृहस्पतिवार से प्रशासन ने फैसले के लिए अयोध्या की तैयारी पर काम तेज कर दिया। सुबह से ही नजारा बदला-बदला सा था। हर चेकपोस्ट-बैरियर पर आने-जाने वालों को सघन तलाशी के बाद ही रामनगरी की ओर बढ़ने की इजाजत दी जा रही थी। श्रद्धालुओं, साधु-संतों से लेकर रोज आने-जाने वाले स्थानीय लोगों-व्यापारियों के बैग-झोले खंगाले गए। मोबाइल के चार्जर तक रखवा लिए गए। फैजाबाद के बेनीगंज में बैरियर लगा दिया गया। पहले कभी पंचकोसी परिक्रमा में यहां से कोई रोक-टोक नहीं होती थी। 
यहां से ट्यूशन जाने वाले बच्चों, दुकानदारों-कारोबारियों की बाइकें-साइकिलें तक अंदर जाने से रोक दी गईं। तमाम लोग वापस घर लौटने को मजबूर थे। बीवी-बच्चों के साथ अवध विवि के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. दीपक कोरी भी परेशान लोगों में शामिल थे। बोले-ऐसी रोक-टोक पहले नहीं थी, लगता है फैसला आने वाला है। सदर बाजार कैंट फैजाबाद के आशाराम अपनी सिंघाड़ा चद्दर में समेटकर पैदल निकल पाए, बोले कि पुलिस ठेला आगे नहीं जाने दे रही है। अब कहीं चद्दर बिछाकर दुकान लगाएंगे, ताकि रोजी-रोटी चल जाए।
अयोध्या नगरी के अंदर का माहौल और सख्त दिखा। थाना रामजन्मभूमि मार्ग के बैरियर पर हर व्यक्ति की सघन जांच होती रही। स्थानीय लोगों की साइकिल पर दूध-दही के डिब्बे तक खुलवाकर चेक किए गए। हर सामानों, सब्जियों-फलों आदि की पैकिंग तक खुलवाई गई। यहां तक की मीडिया के कैमरे, बैग तलाशी के बाद आईडी देखकर ही आगे बढने की इजाजत मिल रही थी।

Popular posts
स्वच्छता के प्रति जागरूक सफाई कर्मी  लाक डाउन के प्रति हम क्यो नही    
Image
धोखाधड़ी कर फ़र्ज़ी नाम से फ़ाइनेंस कराकर मोटरसायकिल बेचने वाले दो अभियुक्त गिरफ़्तार , 77 बाइक बरामद
Image
कृषि सूचना तंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम एवं नेशनल फूड सिक्यारिटी मिशन
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
सांसद ने आगरा एक्सप्रेस-वे पर लंच पैकेट किया वितरण
Image