बनीकोडर में बदहाल शिक्षा ब्यवस्था

रामसनेहीघाट बाराबंकी। बनीकोडर में बदहाल शिक्षा ब्यवस्था सुधरने का नाम नही ले रही है, निर्धारित समय से पहले विद्यालय बन्द कर चले जाना बनीकोडर में एक आदत सी बन गयी है, कबतक बच्चो के भविष्य के साथ खिलवाड़ होता रहेगा इसका जवाब न तो अध्यापक के पास है और न ही खंड शिक्षा अधिकारी के पास।
देर से आना जल्दी जाना और ये कहना मैंने तो पढ़ाया, ये शब्द बनीकोडर की शिक्षा ब्यवस्था पर सटीक बैठते है, बच्चो को शिक्षा के नाम पर केवल खाना पूर्ति करना बनीकोडर के कुछ शिक्षकों की आदत बन गयी है उसके बाद भी खंड शिक्षाधिकारी जानबूझ कर लापरवाह अध्यापकों को अभयदान देने से नही चूकते, शुक्रवार को जब कुछ परिषदीय विद्यालयों का हाल जाना तो 12:24 मिनट पर प्रधमिक विद्यालय चंदई सधवापुर में ताला लटक रहा था आस पास के लोगो से जानकारी मिली कि मास्टर साहब बन्द करके चले गए है, यहां पर गंदगी भी विद्यालय परिसर में थी, सोचनीय तो यह है कि जब सरकार बच्चो के उज्ज्वल भविष्य के लिए परिषदीय विद्यालयों में विभिन्न प्रकार की योजनाएं दे रही है तथा अध्यापकों को भारी तनख्वाह दे रही है उसके बाद भी बनीकोडर में शिक्षा ब्यवस्था बदहाली का शिकार होती जा रही है। इसके बाद करीब 12:40 बजे प्राथमिक विद्यालय ठठरहा का हाल जाना यहां पर विद्यालय में प्रधानाध्यापक अचल कुमार सिंह,शिक्षामित्र वीरेंद्र कुमार व सुदामा देवी मौजूद रही यहां ओर पंजीकृत 53 बच्चो में से 35 उपस्थित रहे, इस विद्यालय में अच्छी शिक्षा मिलने के कारण साधवापुर में विद्यालय होने के बाद भी उस गाँव से नैंसी कथा 5, अंजली कक्षा 4, शालू, लक्ष्मी, नीतू, शशी, शालनी, साधवपुर से यहां पढ़ने आते है।
इसके बाद 12:50 बजे प्राथमिक विद्यालय बनीकोडर का हाल जाना यहां पर प्रधानाध्यापिका सिद्धि शुक्ला, व शिक्षा मित्र अनुराधा पाल विद्यालय में मौजूद रही वही सहायक ममता मिश्रा व शिक्षामित्र मीरा देवी विद्यालय से गायब रही, प्रधानाध्यापिका ने बताया कि ममता मिश्रा घर चली गयी है तथा शिक्षामित्र मीरा देवी दवा लेने गयी है। यहां ओर पंजीकृत 106 बच्चों में से 45 बच्चे मौजूद रहे। इस संबंध में खंड शिक्षाधिकारी से जानकारी चाही तो उनसे संपर्क नही हो पाया।


Popular posts
केवल कलम में ताकत है सत्ता से टकराने की
कृषि सूचना तंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम एवं नेशनल फूड सिक्यारिटी मिशन
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
स्वच्छता के प्रति जागरूक सफाई कर्मी  लाक डाउन के प्रति हम क्यो नही    
Image
धोखाधड़ी कर फ़र्ज़ी नाम से फ़ाइनेंस कराकर मोटरसायकिल बेचने वाले दो अभियुक्त गिरफ़्तार , 77 बाइक बरामद
Image