पुलिस प्रशासन की मिलीभगत में बेखौफ खनन दिनरात जारी

सिद्धौर, बाराबंकी। सिद्धौर क्षेत्र में सक्रिय खनन माफिया खुलेआम बेखौफ होकर मिट्टी का खनन कर अवैध कारोबार को अंजाम दे रहे हैं पर उन्हें रोकने टोकने वाला कोई नहीं है। जिससे खनन माफियाओं के हौसले बुलंद हैं। 
पुलिस राजस्व एवं खनन माफियाओं के गठबंधन के चलते अवैध कारोबारियों द्वारा सीना तान कर( मिट्टी का सीना चीर) उसे डंपरों में लादकर  मिट्टी को  रात भर  इधर उधर  पहुंचा खनन माफियाओं द्वारा खनन धड़ल्ले से किया जा रहा है।जिसका नजारा सिद्धौर विकास क्षेत्र के जयचंद पुर गांव के निकट स्थित इसी गांव के चैराहा के समीप देखा जा सकता है कि खनन की राह में रोड़ा बनने वाले औषधीय नीम के पेड़ों तक को भी खनन माफियाओं ने उखाड़ फेंका स्थानीय लोगों का कहना है कि रात होते ही खनन माफियाओं की जेसीबी मशीन गरजने के साथ ही डंपरों की भाग दौड़ शुरू हो जाती है जो भोर की लालिमा तक तीव्र गति से रात भर फर्राटे भरते रहते हैं जेसीबी मशीन की गर्जन एवं डंपरों के आवागमन की आवाजों से भले ही लोगों की नींदें खराब हो रही हों, परंतु इनके शोर की आवाजें शायद जिम्मेदारों तक नहीं पहुंच रही हैं जिससे खनन माफिया बेखौफ होकर मिट्टी का खनन कर अपने कारोबार को अंजाम दे रहे हैं।