सीएए एवं एनआरसी पर मुस्लिम समाज को भ्रमित कर रहे राजनैतिक दल -देवेन्द्र

प्रयागराज,भाजपा काशी क्षेत्र विधि प्रकोष्ठ संयोजक देवेन्द्र नाथ मिश्र ने सोमवार को आहूत एक बैठक मे नागरिकता संशोधन अधिनियम पर हुए हिंसात्मक प्रदर्शन पर विपक्षी दलों को कटघरे मे खड़ा करते हुए मुस्लिम समाज का आह्वान किया। कि इस निर्णय से भयभीत होने की कोई जरूरत नही है।
कुछ राजनैतिक दल के लोगों द्वारा हताशा मे साजिश के तहत अफवाह फैलाया जा रहा है कि इस अधिनियम से मुस्लिम समाज का हितलाभ प्रभावित होगा।जबकि इससे मुस्लिम समाज का  कोई भी अहित नही होने वाला है।
मुस्लिम समाज के प्रबुद्ध एवं जागरूक लोगों से आग्रह किया कि इस अधिनियम के बारे मे पूरी जानकारी प्राप्त कर अपने समाज के लोगों को वास्तविकता से अवगत कराएं।
देश के प्रधानमन्त्री जी एवं गृहमंत्री जी लगातार लोगों को आगाह कर रहे हैं कि किसी भी भ्रामक सूचना से सावधान रहें.हिन्दुस्तान की मिट्टी मे पले व बढ़े मुसलमानो को इससे कोई लेना देना नही है और ये कानून धर्मनिरपेक्षता के सिद्धांत के खिलाफ भी नही है।
भाजपा की केंद्र और प्रदेश की सरकारो ने मुस्लिम समाज के हित के लिए अनेको हितकारी योजनाएं लागू की और धर्म एवं वर्ग के आधार पर बिना किसी भेदभाव के सभी का विश्वास हासिल किया।आज विश्व के अनेक मुस्लिम राष्ट्रों बांग्लादेश.अफगानिस्तान और मालदीव द्वारा भारत को सम्मान दिया जा रहा है जिसे विपक्षी दल हजम नही कर पा रहा हैं।
सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास के एजेंडे पर चल रही सरकार की लोकप्रियता के कारण सभी विपक्षी दल अपने अस्तित्व बचाने को व्याकुल हैं और इसी उधेड़बुन मे ऐसे साजिश रचकर सरकार को बदनाम करने की साजिश रच रही है जिसे जागरूक जनता कामयाब नही होने देगी।
प्रदेश की सपा 
,बसपा और कांग्रेस को भी ऐसे घिनौने साजिश रचने से बाज आने को कहा।


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
बाबा हरि शंकर दास जी महाराज कि पुण्य स्मृति
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
रिक्त पदों पर पंचायत उपचुनाव का जायजा लेने पहुंचे डीएम व एसपी
Image
चिन्मयानंद केसः पीड़िता की जमानत याचिका पर सुनवाई टली, पीड़िता के वकील ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप