जिंदगीभर सिर छिपाने को छत के लिए तरसा, मौत आई तो कब्र नसीब नहीं...
फिरोजाबाद जनपद के नारखी के गांव नगला रूध में भूमिहीन लोगों के अंतिम संस्कार के लिए न तो जमीन है और न श्मशानघाट। इसी गांव में हिंदू बंजारा समाज के लोग भी रहते हैं। इनके पास अपनी जमीन नहीं है। इस समाज के लोगों की मृत्यु पर अंतिम संस्कार करना मुश्किल होता है।

Popular posts
स्वच्छता के प्रति जागरूक सफाई कर्मी  लाक डाउन के प्रति हम क्यो नही    
Image
धोखाधड़ी कर फ़र्ज़ी नाम से फ़ाइनेंस कराकर मोटरसायकिल बेचने वाले दो अभियुक्त गिरफ़्तार , 77 बाइक बरामद
Image
कृषि सूचना तंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम एवं नेशनल फूड सिक्यारिटी मिशन
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
सांसद ने आगरा एक्सप्रेस-वे पर लंच पैकेट किया वितरण
Image