ईरानी पहलवान नहीं कर सके अपना चैलेंज पूरा, वजह बनी बारिश, भारतीय वरुण ने जीती ढाई लाख की कुश्ती
बागपत में बस स्टैंड के पास स्थित मैदान पर आयोजित दंगल में पहलवानों के मुकाबलों से दर्शक रोमांचित हो उठे। बारिश की बाधा के बावजूद नामी पहलवानों की कुश्ती ने दर्शकों को बांधे रखा। दंगल में सबसे बड़ी ढाई लाख की कुश्ती हिंद केसरी वरुण ने जीती। पहलवान वरुण ने मध्य प्रदेश के पहलवान अन्ना को पटखनी दी। ईरानी पहलवान भी कुश्ती के लिए मैदान पर उतरे मगर बारिश तेज होने के कारण उनकी कुश्ती बीच में ही रोकनी पड़ी और वह बराबरी पर छूटी।


एशिया चैंपियन सुभाष पहलवान के पिता चौधरी महावीर सिंह की स्मृति में आयोजित 22वें दंगल का उद्घाटन सुभाष पहलवान ने पहलवानों के परिचय के साथ किया। इसके बाद पहलवानों के बीच कुश्तियां हुईं। ढाई लाख रुपये की इनामी कुश्ती हिंद केसरी वरुण बली और मध्यप्रदेश के पहलवान अन्ना के बीच हुई। इसमें वरुण बली ने आसानी से 



वहीं ईरानी पहलवान मोहम्मद हदी इस दंगल में सुभाष पहलवान के आमंत्रण पर आए थे। उन्होंने इस दंगल में कुश्ती लड़ने के लिए भारतीय पहलवानों को चुनौती दी थी। इसे पहलवान अजय गुर्जर, भारत केसरी वरुण बली ने सहर्ष स्वीकार किया। लेकिन ईरानी पहलवान मोहम्मद हदी की कुश्ती अजय गुर्जर के साथ हुई। यह कुश्ती ढाई लाख रुपये की इनामी कुश्ती थी। लेकिन अचानक शुरू तेज बारिश ने सभी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। कुश्ती को बारिश के कारण बीच मे ही रोक दिया गया। 
इसके बाद कुश्ती को बराबर घोषित कर दिया गया। दंगल के रेफरी सतबीर खलीफा एवं श्रुति खलीफा रहें। आयोजक को सफल बनाने में कृष्णपाल प्रधान मलकपुर, इंद्रपाल प्रधान, जिला उपाध्यक्ष भाजपा डॉ. नीरज कौशिक, चंद्रवीर तोमर, राकेश जैन, विनोद पांचाल, मीडिया प्रभारी राजीव तोमर, पवन शर्मा, प्रभात तोमर, अमरजीत तोमर आदि का सहयोग रहा।




Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image