शब्दों की मर्यादा वे तार तार कर रहे’’ चुनाव पर केंद्रित रहा कवि सम्मेलन

त्रिवेदीगंज बाराबंकी। नव उमंग साहित्य संस्थान के तत्वाधान में आयोजित कवि सम्मेलन में कवियों ने लोकतंत्र के महापर्व पर अपनी सरस रचनाओं से आम मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित किया।
  मंगलपुर में वेद प्रकाश सिंह प्रकाश की अध्यक्षता व सुनील वाजपेयी शिवम् के संचालन में कविगोष्ठी का शुभारम्भ श्रवण बाजपेयी ने वाणी वन्दना से किया। तत्पश्चात सौरभ वर्मा स्माइल ने आओ लोकतंत्र का सम्मान करें, चलो सभी मतदान करें तथा श्रवण बाजपेयी ने महापर्व मतदान हमारा कहीं निकल न जाये गीत के माध्यम से तो सुनील वाजपेयी शिवम् ने ''नेता जी कहाते प्रबुद्ध करते वाकयुद्ध, शब्दों की मर्यादा वे तार तार कर रहे ''तथा जब तर्जनी पर तिलक लगे, जब ईवीएम का बटन दबे, जब लोकतंत्र की बीप बजे, तभी मतदाता अधिकार बनाये मन'' की सरकार रचना पढ़ मतदाताओं को प्रेरित किया। वेद प्रकाश सिंह प्रकाश ने गीत मौसम आवा है चुनाव का के माध्यम से पहिले खुब मनही मन गुनना, योग्य व्यक्ति ही सब कोई चुनना, से हर हाल में मतदान करने की अपील की। 
कवि सम्मेलन में ओम प्रकाश जयंत, सोएब हैदरगढ़ी, पुष्पेन्द्र पाण्डेय आदि ने भी काव्यपाठ किया।


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image