भारी अव्यवस्थाओं के बीच आयोजित हुई क्षेत्र पंचायत की बोर्ड की बैठक

सिद्धौर बाराबंकी। क्षेत्र पंचायत की बोर्ड की बैठक भारी अव्यवस्थाओं के बीच ब्लॉक प्रमुख की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जिसमें क्षेत्र के लगभग सैकड़ों महिला जनप्रतिनिधियो समेंत कई विभाग के अधिकारी व कर्मचारी भी बैठक में नदारद रहे जिनका न आना चर्चा का विषय रहा। जबकि भिजवाए गए एजेंडे में साफ कहा गया था कि कोई भी क्षेत्र पंचायत सदस्य व ग्राम प्रधान अपना प्रतिनिधि न भेजकर स्वयं बैठक में उपस्थित हो लेकिन ऐसा देखने को नहीं मिला।
   सिद्धौर मुख्यालय पर गुरुवार को ब्लाक प्रमुख रमेश चंद्र वर्मा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में अनेकों खामियां रही। बैठक में आए सदस्यों ने खंड विकास अधिकारी सिद्धौर सरिता गुप्ता से क्षेत्र की समस्याओं को अवगत कराते हुए कई सवाल भी किए परंतु खंड विकास अधिकारी द्वारा कोई संतोषजनक जवाब न दिए जाने से शिकायतकर्ता क्षेत्र पंचायत सदस्य जहां असंतुष्ट दिखे वहीं ग्राम प्रधान इधर-उधर टहलते रहे। जब इस बैठक के बारे में क्षेत्र पंचायत सदस्य रामबरन वर्मा संतोष मिश्रा शनीश वर्मा मनोज कुमार सिंह धर्मेंद्र कुमार वर्मा आदि से बात की गई तो उन्होंने बताया कि लगभग 1 वर्ष बाद बोर्ड की बैठक का आयोजन किया गया है पिछली बैठक में उठाए गए मुद्दों को आज तक पूर्ण नहीं कराया गया। सरकार सबका साथ सबका विकास की बात कर रही है लेकिन विकासखंड सिद्धौर में सरकार की मंशा को अधिकारी कर्मचारी तार-तार करते नजर आ रहे हैं जिस का नजारा विकासखंड की किसी भी ग्राम पंचायत में देख कर जाना जा सकता है विकासखंड की 96 ग्राम पंचायत हैं ओडीएफ घोषित हो गई हैं लेकिन किसी भी ग्राम पंचायत में बनवाए शौचालय पूर्ण नहीं है। सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का पूरा लाभ गरीबों को तभी मिलेगा जब विकास कार्यों में जनप्रतिनिधियों का सहयोग अधिकारी करे। बैठक में क्षेत्र पंचायत सदस्य व जिला अध्यक्ष  भारतीय किसान यूनियन रामबरन वर्मा ने पुराने आवास की नीलामी न करा कर सामग्री गायब करने की जांच  सभी ग्राम प्रधानों को समान कार्य व धनराशि मिलने शिक्षा व्यवस्था बदहाल स्कूलों की जांच गांव में ब्लीचिंग पाउडर ना डलवाने गांव में बदहाल सफाई व्यवस्था पशुओं के टीकाकरण ना होने सूखे तालाबों में पानी ना भरवाने का मुद्दा प्रमुखता से उठाया जिसका जवाब खंड विकास अधिकारी द्वारा संतोषजनक नहीं दिया गया। ग्राम प्रधान अमसेरूवा रणजीत मिश्रा ने बनवाये गये नाले का पेमेंट न होने प्रधानों को यात्रा भत्ता मिलने का मुद्दा उठाया इसका जवाब खंड विकास अधिकारी ने दिया और कहा मेरी जानकारी में नहीं है। बैठक में खंड शिक्षा अधिकारी आर के सिहं बाल विकास परियोजना अधिकारी  हेमलता श्रीवास्तव ने अपने-अपने विभाग की जानकारी उपस्थित सदस्यों और ग्राम प्रधानों को दी आयोजित बैठक में ज्यादातर नामित अधिकारियों के भाग न लेने से सदस्यों ने ब्लाक प्रमुख से कार्यवाही किए जाने की मांग की। बैठक के अंत में इस बैठक में पहुंचे सांसद उपेंद्र रावत का  वहां पर मौजूद  ग्राम प्रधानों क्षेत्र पंचायत सदस्यों द्वारा  स्वागत किया गया। 
बैठक में प्रमुख रूप से पूर्व ब्लाक प्रमुख शिव गोविंद सिंह प्रधान सत्यनाम वर्मा रोनू सिंह राजेश वर्मा वीरपाल सिंह धनीराम पाल क्षेत्र पंचायत सदस्य  राजेंद्र यादव  गुरुप्रसाद  प्रधान संघ अध्यक्ष मोहम्मद अकील जैदी रामजीत सत्यनाम सिंह गुड्डू सहित प्रधान व बीडीसी मौजूद रहे।


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image