लल्लू सिंह को बराबर की टक्कर दे रहे डाॅ निर्मल व आनन्द सेन


बाराबंकी। विधानसभा दरियाबाद बाराबंकी की इकलौती विधानसभा जो अयोध्या लोकसभा क्षेत्र में आती है। इसमें दरियाबाद क्षेत्र, टिकैतनगर, पूरेडलई, रामसनेहीघाट सहित असंद्रा का भी काफी कुछ क्षेत्र आता है। क्षेत्र में ठाकुरांे का वर्चस्व होने के साथ-साथ कुर्मी व दलित बिरादरी बहुतायत से क्षेत्र में मौजूद है लेकिन ठाकुर के वर्चस्व के रहते वोटरों को झुकाव भी इसी परिपेक्ष में चुनाव दरम्यान क्षेत्र मे देखने को मिलता है। 


तत्कालीन में यहां से जहां लल्लू सिंह सांसद रहे लेकिन भाजपा शासन दौरान ही जहां विकास कार्यों को लेकर लोकनिर्माण सहित अन्य विभाग द्वारा जमकर अनियमितताएं क्षेत्र में इसकदर बरती गईं कि जहां गन्ना तौलाई के समय क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण मार्गों पर पत्थर डलवाकर विभाग द्वारा ऐसे ही छोड़ दिए जाने से जमकर लोगों का गुस्सा सामने आया वहीं लल्लू सिंह की भी जमकर किरकिरी हुई और इस वर्ष मिलने वाले मतों पर भी इसका असर जरूर पड़ा। भले ही इसमें भाजपा के जिलाध्यक्ष सहित क्षेत्रीय विधायक व लोकनिर्माण विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत रही हो। जैसा मीडिया की सुर्खियों में सामने भी आया। लेकिन वहीं महागठबंधन जिससे इस बार यहां से आनन्द सेन प्रत्याशी मैदान में ज्यादा सशक्त दिखाए दिए। लेकिन कांग्रेस के जारी प्रयासों से इसबार जहां क्षेत्रीय मुस्लिमों का ज्यादा झुकाव कांग्रेस की ओर रहा वहीं लोक मानकर चल रहे हैं कि मायावती का जादू महागंठबंधन से टूटने के बाद दलितों का कांग्रेस की ओर झुकाव क्षेत्रीय लोगों ने महसूस किया है। वैसे भी कांग्रेस से यहां मजबूत शख्सियत पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष व पूर्व सांसद डाॅ निर्मल खत्री मैदान में बराबर की लड़ाई में देखे जा रहे हैं। यहां पर त्रिकोणीय चुनाव की स्थिति स्पष्ट देखी जा रही है कि कहीं पर पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सांसद डॉ निर्मल खत्री तो कहीं पर गठबंधन के प्रत्याशी पूर्व राज्य मंत्री आनंद सेन यादव तो वहीं कहीं पर भगवा की स्थिति  भाजपा के सांसद लल्लू सिंह की स्थिति मजबूत दिख रही है 23 मई इन तीनों में से कौन बिजयी हो और सत्ता के गलियारे में प्रवेश कर जनता की समस्याओं को पटल पर रखे व्यवस्था में अपना योगदान करेगा ईवीएम में कैद हो चुका है। रामसनेहीघाट के उपजिला अधिकारी राजीव कुमार शुक्ला तहसीलदार तपन कुमार मिश्रा सहित संबंधित विभागों के जिम्मेदार अधिकारी, बनीकोडर खंड शिक्षा अधिकारी अजीत सिंह द्वारा जगह जगह पर महापर्व मतदाता जागरूकता की रैली करा कर शत प्रति शत वोट को डलवाने की पूरा निरंतर प्रयास जारी रहा जिसके चलते पिछली बार के 58प्रतिशत के जवाब में इस बार यहां 61 प्रतिशत मत पड़े। अब बढ़े हुए मतदान प्रतिशत में इसबार लल्लू सिंह की चांदी होती है कि डाॅ निर्मल खत्री की या फिर आनन्द सेन की कहना मुश्किल है।  असली में क्या होता है इसके लिऐ इंतजार करना होगा 23 मई का जब यह बात पूरी तरह स्पष्ट हो जाएगी। 


Popular posts
स्वच्छता के प्रति जागरूक सफाई कर्मी  लाक डाउन के प्रति हम क्यो नही    
Image
धोखाधड़ी कर फ़र्ज़ी नाम से फ़ाइनेंस कराकर मोटरसायकिल बेचने वाले दो अभियुक्त गिरफ़्तार , 77 बाइक बरामद
Image
कृषि सूचना तंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम एवं नेशनल फूड सिक्यारिटी मिशन
Image
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
सांसद ने आगरा एक्सप्रेस-वे पर लंच पैकेट किया वितरण
Image