अब पूरे देश में इस्तेमाल किया जाएगा एक ही समय, जल्द बनेगा कानून

जिस तरह जर्मनी में जर्मन समय वैधानिक समय है उसी तरह भारत में भी यहां के वैधानिक समय का इस्तेमाल किया जाएगा। देश में भारतीय समय का इस्तेमाल अनिवार्य करने के लिए कानून बनाया जाएगा। जिसके बाद देश का अपना मानक समय होगा। नेशनल फिजिकल लेबोरेटरी (एनपीएल) अब रेलवे से लेकर बैंकिंग सेक्टर तक सबको सटीक समय की जानकारी देगी


एनपीएल के निदेशक डॉ. दिनेश कुमार असवाल ने सोमवार को बताया कि सरकार ने देश में हर उद्देश्य के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले समय को एनपीएल की घड़ी के अनुरूप करने की योजना बनाई है। एनपीएल का समय अंतरराष्ट्रीय समय की तुलना में 2.7 नैनो सेकंड तक सटीक है। अभी देश का सटीक समय आकाशवाणी और दूरदर्शन द्वारा लोगों तक पहुंचाया जाता रहा है।
दिनेश कुमार ने आगे बताया कि सरकार की योजना पूरे देश में सिर्फ एक समय के इस्तेमाल की है, जो भारत का मानक समय होगा। इसके अनिवार्य इस्तेमाल के लिए सरकार जल्द ही संसद में विधेयक लाएगी। इस मामले में उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के अधिकारियों से उनकी चर्चा चल रही है। इसरो ने तो अपने प्रक्षेपणों में इसका इस्तेमाल भी शुरू कर दिया है।
डिजिटल लेनदेन में साइबर सुरक्षा के लिए सटीक समय की जानकारी जरूरी है। कई विकसित देशों में उनका स्थानीय समय ही एकमात्र वैधानिक समय होता है। जर्मनी में जर्मन समय वैधानिक समय है। वहां के लोग किसी और समय का इस्तेमाल नहीं कर सकते। वहीं, भारत में अभी आधिकारिक समय तो है, लेकिन उसे अभी वैधानिक दर्जा नहीं दिया गया है। इस कारण हम किसी भी समय का इस्तेमाल करने के लिए स्वतंत्र हैं। 


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image