करतारपुर कॉरिडोर समझौते पर कल हस्ताक्षर करेंगे भारत-पाकिस्तान
भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर संचालन के समझौते को एक दिन के लिए टाल दिया गया है। पहले बुधवार को समझौते पर हस्ताक्षर होने थे। विदेश मंत्रालय की ओर से मंगलवार को कहा गया कि गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी गुरुवार को जीरो प्वाइंट पर पाकिस्तानी अधिकारी से मिलेंगे और भारत की ओर से एमओयू पर हस्ताक्षर करेंगे।  

विदेश मंत्रालय ने सोमवार को कहा था कि भारत बुधवार को गलियारे पर समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव स्तर के एक अधिकारी गुरुवार को करतारपुर गलियारे के पास जीरो प्वॉइंट पर पाकिस्तान के अधिकारियों से मिलेंगे और भारत की ओर से समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेंगे।
शुरुआत में, दोनों पक्ष सहमत थे कि समझौते पर बुधवार को हस्ताक्षर किए जाएंगे। यह गलियारा अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगभग चार किमी दूर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के नरोवाल जिले के करतारपुर में स्थित गुरुद्वारे को भारत के पंजाब में स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा से जोड़ेगा।
गौरतलब है कि भारत ने श्रद्धालुओं से 20 डॉलर शुल्क वसूले जाने के पाकिस्तान के अड़ियल रवैये के बावजूद समझौते पर हस्ताक्षर करने पर हामी भरी थी। दोनों ही देश करतारपुर कॉरिडोर को गुरू नानक देव की 550वीं जयंती से पहले नवंबर की शुरुआत में खोलने की तैयारी कर रहे हैं। गौरतलब है कि भारत प्रत्येक तीर्थयात्रियों पर 20 अमेरिकी डॉलर का सेवा शुल्क लगाने के पाकिस्तान के फैसले का कड़ा विरोध कर रहा है।