महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष जन सत्याग्रह प्रारम्भ होगा।
बाराबंकी। नगर पालिका परिषद द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान किए जाने के विरोध में गांधी जयन्ती समारोह ट्रस्ट द्वारा सोमवार, दिनांक 16 सितम्बर 2019 को प्रातः 10 बजे से नगर के देवा रोड स्थित गांधी भवन में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष जन सत्याग्रह प्रारम्भ होगा। यह जानकारी संयोजक राजनाथ शर्मा ने दी। 

श्री शर्मा ने बताया कि नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष और अधिशाषी अधिकारी ने महात्मा गांधी की जयन्ती पर सन् 1978 से निरंतर होने वाले समारोह को नगर पालिका के मैदान में आयोजित करने से मना कर दिया है। जबकि पूर्ववर्ती सरकारों के प्रतिनिधियों ने ऐसा अमानवीय कृत्य कभी नहीं किया। कुछ तथाकथित राष्ट्रवादी लोग महात्मा गांधी की विचारधारा और उनको मानने वाले लोगों का अपमान करते आ रहे है। जिसके बाद लगातार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आम जनता के बीच सफाई दे रहे है कि हम गांधी जी को मानने वाले है। उन्हीं के आदर्शो पर चलते है। लेकिन ऐसे लोगों पर कार्यवाही करने से डरते है। 

श्री शर्मा ने कहा कि गांधी जयन्ती के कार्यक्रम हेतु नगर पालिका परिषद का मैदान आरक्षित करने का आवेदन छः माह पूर्व किया गया था। लेकिन महात्मा गांधी को अपमानित करने के इरादे से नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी ने मैदान देने से इंकार कर दिया। जिसकी शिकायत सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, नगर विकास मंत्री, प्रमुख सचिव नगर विकास विभाग, जिलाधिकारी को की गई थी और 10 दिनों के भीतर निस्तारण का आग्रह किया गया था। लेकिन स्थिति ज्यों की त्यों बनी हुई। इसी बीच उरई में महात्मा गांधी की प्रतिमा को कुछ अराजक तत्वों ने खण्डित कर दिया। जिसके बाद ऐसा प्रतीत होता है यहां भी धार्मिक साम्प्रदायिकता का फायदा उठाकर कुछ अराजक तत्व गांधी भवन में स्थापित महात्मा गांधी की प्रतिमा को क्षति पहुंचाने का प्रयास करेंगे। 

श्री शर्मा ने बताया कि कुछ मांगों को लेकर गांधी भवन में 16 सितम्बर से महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष जन सत्याग्रह शुरू किया जा रहा है। जो अनवरत रूप् से जारी रहेगा, जब तक सभी मांगें पूरी नहीं हो जाती है।