मामला सुलझाने के लिए सिपाही ने रखी शर्त, महिला से कहा शारीरिक संबंध बनाओ
रायबरेली के जामो थाने में तैनात एक सिपाही पर क्षेत्र की एक महिला ने गंभीर आरोप लगया है। महिला ने बताया कि शिकायत निस्तारण के बदले सिपाही ने शारीरिक संबंध बनाने की शर्त रखी। महिला ने शारीरिक संबंध बनाने से मना किया तो सिपाही घूस मांगने लगा।

सोशल मीडिया पर महिला के आरोप का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मचा गया। एसपी ने महिला थानाध्यक्ष को जांच सौंपी है। एक दिन पहले इसी सिपाही पर एक अन्य महिला 40 हजार रुपये घूस देने का आरोप लगा चुकी है।


जामो थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने थाने में तैनात सिपाही राकेश सिंह पर शारीरिक संबंध बनाने का दबाव बनाने का आरोप लगाते हुए मित्र पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़ा किया है। रविवार को सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में महिला बता रही है कि भूमि विवाद के संबंध में शिकायती पत्र लेकर वह थाने पहुंची तो उसकी मुलाकात सिपाही राकेश सिंह से हुई। सिपाही ने शिकायती पत्र लेकर मौके का निरीक्षण करने की बात कहकर उसे घर भेज दिया। 
महिला के अनुसार सिपाही उसके गांव पहुंचा और विवादित स्थल का मुआयना किया। इसके बाद उसके पक्ष में रिपोर्ट लगाने के लिए पहले महिला को अपने कमरे पर आकर खाना बनाने को कहा। महिला का आरोप है कि जब उसने असमर्थता जताई तो सिपाही ने कहा कि इसके लिए तुम्हें जुर्माना भरना होगा। 
आरोप है कि जब महिला ने सिपाही से जुर्माने के बारे में पूछा तो उसने कहा कि या तो मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाओ या फिर आर्थिक लाभ पहुंचाओ। वायरल वीडियो में महिला ने उच्चाधिकारियों से सिपाही के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस विभाग ने हड़कंप मचा है। एसपी ने महिला थानाध्यक्ष को प्रकरण की जांच सौंपी है।

40 हजार घूस लेने का भी लगा आरोप


थाना क्षेत्र के गांव शिवपुर मजरे घाटमपुर की रहने वाली उर्मिला प्रजापति ने अपनी जमीन पर हुए अवैध कब्जे को हटवाने के लिए सिपाही राकेश सिंह पर 40 हजार रुपये घूस लेने का शनिवार को आरोप लगाया है। उर्मिला के मुताबिक सिपाही ने कब्जा हटवाने के एवज में उससे 40 हजार रुपये की मांग की थी।
उर्मिला ने सिपाही को रुपये दे दिये। मगर कई दिन बीतने के बाद जब कब्जा नहीं हटा तो वह सिपाही को फोन करने लगी। इस पर सिपाही ने उर्मिला का फोन उठाना बंद कर दिया। उर्मिला ने भी उच्चाधिकारियों से शिकायत कर अपनी रकम वापस दिलाने की मांग की है।

महिला थानाध्यक्ष को सौंपी जांच
पुलिस अधीक्षक डॉ. ख्याति गर्ग ने बताया कि सिपाही पर गंभीर आरोप का वीडियो वायरल होने की जानकारी मिली है। प्रकरण गंभीर है। इसकी जांच महिला थानाध्यक्ष से कराई जाएगी। शिकायत सही मिलने पर कड़ी कार्रवाई होगी। जामो थानाध्यक्ष रवींद्र सिंह ने बताया कि प्रकरण की जांच कर एसपी को रिपोर्ट सौंपी जाएगी।