जवाहर लाल नेहरु मेमोरियल पी॰जी॰ कालेज में सैनिक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया

बाराबंकी- जवाहर लाल नेहरु मेमोरियल पोस्ट ग्रेजुएट कालेज के डॉ0जे0पी0एन0सिंह सभागार में पूर्व सैनिक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता रिटायर्ड कर्नलश्री सतीश खत्री ने किया। माननीय उपजिलाधिकारी नवाबगंज, श्री अभय कुमार पाण्डेय मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे ।अपने सम्बोधन में मा0 उपजिलाधिकारी ने सैनिको का उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि पूरा देश सैनिको के प्रति कृतज्ञ है क्योंकि इन्ही की बदौलत हम चैन की नींद सो पाते है। उन्होनें प्राचार्य द्वारा सैनिकों के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित करने के लिए उनकी प्रशंसा की। लखनऊ, फैजाबाद, सुल्तानपुर एवं बाराबंकी जनपदों के 91 पूर्व सैनिकों ने हिस्सा लिया। प्राचार्य ने अपने सम्बोधन में कहा कि अब भारत 'सोने की चिड़िया' नही रहा कि कोई भी उसे दबोच लेगा। आज का भारत 'सोने का शेर' है, हाथ बढ़ाने के पहले किसी दुश्मन को सौ बार सोचना होगा। प्राचार्य ने कहा कि हिन्दुस्तान बुद्ध की धरती है जो युद्ध की शुरूआत करने की इजाजत नहीं देती। इसीलिए अब देश की सेना आक्रमणकारियों की जमीन पर जंग करने जाती है। जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण वीर अभिनंदन है। हम युद्ध की शुरूआत करना नही जानते लेकिन जवाब देना बखूबी आता है। कार्यक्रम के दौरान पूरा सभागार 'भारत माता की जय' के उद्घोष से गूंजता रहा। विशिष्ट अतिथि कर्नल आई0जे0 सिंह एवं कैप्टन शिवगोबिन्द द्विवेदी जी ने अपने अनुभवों को बताया। महाविद्यालय के समस्त शिक्षकों ने सैनिकों को फूलमालाओं एवं अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ रीना सिंह, डॉ० शार्दूल विक्रम सिंह तथा पूर्व सैनिक जिलाध्यक्ष अखिलेश शुक्ला ने संयुक्त रूप से किया।