डीएम से मदद मांगने पहुंचे फरियादी को पुलिस वालों ने लात-घूंसों से पीटा, थाने में बंदकर दी धमकी
गंभीर रूप से बीमार पत्नी को जिला अस्पताल में एक दिन और रखने की मदद मांगने डीएम के पास जा रहे फरियादी को डीएम आवास पर तैनात पुलिस व होमगार्ड के जवानों ने पीट दिया। सूचना के बाद पहुंचे ईगल पर तैनात पुलिस कर्मी और कोतवाली नगर पुलिस ने डीएम आवास के सामने ही जीप में लादकर लात और घूसों से पीटा।

वहां से कोतवाली ले जाकर लॉकअप में बंदकर फिर पिटाई की। जल्द से जल्द अस्पताल से पत्नी को डिस्चार्ज कराकर घर ले जाने की धमकी दी। डरा सहमा पति दोपहर बाद अस्पताल  पहुंचा और पत्नी को लेकर घर चला गया।


चांदा कोतवाली क्षेत्र के गौरा (शफीपुर) निवासी हरिश्याम की पत्नी महारानी मल्टीपल न्यूरो फाइबोमेटोसिस बीमारी से पीड़ित है। उसे 26 अगस्त को जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने इमरजेंसी में भर्ती किया। रविवार को चिकित्सक ने जब उसे तुरंत लखनऊ ले जाने को कहा तो हरिश्याम डीएम सी. इंदुमती से मिलने उनके आवास पहुंच गया।
आधे घंटे बाद भी जब वह नहीं मिल सका तो जोर-जोर चिल्लाने लगा। तब आवास पर तैनात पुलिस व होमगार्ड ने उसे पीटा। फिर कोतवाली नगर पुलिस को इसकी सूचना दी। वहां पहुंचे सिपाहियों ने हरिश्याम को जीप में लाद दिया और लात-घूंसों से पीटना शुरू कर दिया।


एडीएम ने कहा- कोई अभद्रता नहीं हुई



अपर जिलाधिकारी प्रशासन हर्षदेव पांडेय ने कहा कि पीड़ित महिला के पति से डीएम आवास पर कोई अभद्रता नहीं हुई। उस समय डीएम कार्यक्रम के संबंध में बाहर थीं।




सीएमएस बोले- ट्रॉमा सेंटर किया था रेफर
जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. वीबी सिंह ने बताया कि महिला की हालत गंभीर थी। उसे ट्रॉमा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया था। इसके बावजूद पति उसे नहीं ले गया।