करीब 3.5 लाख नियोजित शिक्षकों को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

सुप्रीम कोर्ट ने नियोजित शिक्षकों की वेतन संबंधी याचिका खारिज कर दी है। यह पुनर्विचार याचिका बिहार के नियोजित शिक्षकों की ओर से दायर की गई थी। इसमें नियोजित शिक्षकों ने नियमित शिक्षकों के समान वेतन की मांग की थी। उनका कहना था कि समान काम के लिए उन्हें समान वेतन भी मिलना चाहिए।



गौरतलब है कि बीते 10 मई को सुप्रीम कोर्ट ने नियोजित शिक्षकों को नियमित शिक्षकों के समान वेतन देने से इनकार कर दिया था। इसके साथ-साथ इस मामले में पटना हाई कोर्ट का वह आदेश भी रद्द कर दिया था जिसमें नियोजित शिक्षकों के पक्ष में फैसला दिया गया था। इसके खिलाफ बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी। कोर्ट ने वह याचिका मंजूर की थी जिसमें बिहार सरकार ने अपना पूरा पक्ष रखा था।


लेकिन 10 मई 2019 को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले के संबंध में नियोजित शिक्षकों ने पुनर्विचार याचिका लगाई थी। अब कोर्ट ने उस याचिका को खारिज करते हुए कहा है कि उनके द्वारा दिए गए फैसले में कोई गलती नहीं है। इसलिए इस पर किसी तरह का पुनर्विचार नहीं किया जा सकता है। कोर्ट के इस फैसला का असर बिहार के करीब 3.5 लाख नियोजित शिक्षकों पर होगा।


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image