अखिलेश और आजम ने किया महिला का अपमान :-देवेन्द्

   प्रयागराज, सपा मुखिया अखिलेश यादव और सांसद आजम खां को कटघरे में खड़ा करते हुए भाजपा विधि प्रकोष्ठ काशी क्षेत्र के संयोजक देवेन्द्र नाथ मिश्र ने कहा कि सम्मानित पीठ की अपनी एक मर्यादा होती है और आजम खां ने अमर्यादित टिप्पणी कर पीठ और महिला समाज का अपमान किया और उनसे भी ज्यादा दोषी अखिलेश यादव हैं जिन्होने ऐसी बेहूदा टिप्पणी पर रोक लगाने के बजाय ठहाका लगाया।
सर्वोच्च संवैधानिक सदन की पीठ पर विराजमान सांसद रमा देवी के खिलाफ की गई टिप्पणी छद्म समाजवाद का चरित्र उजागर करती है.
उत्तर प्रदेश में सुश्री मायावती जी के साथ स्टेट गेस्ट हॉउस कांड करने वाली तथाकथित विचारधारा के लोगों से इससे ज्यादा क्या उम्मीद की जा सकती है।पूर्व में भी आजम खां ने अनेको बार महिलाओं के लिए आपत्तिजनक शब्दो का इस्तेमाल किया है जो इनकी मानसिक विकृति दर्शाता है।महिला समाज का अपमान बर्दाश्त नही किया जाएगा।
सपा सांसद आजम खां के खिलाफ पीठ को कड़ी कार्यवाही और इनकी सदस्यता तत्काल रद्द कर देना चाहिए ताकि सांसद में इसकी पुनरावृत्ति न हो।