मुख्यमंत्री का आदेश भी नहीं दिला पाया अग्निकाण्ड पीड़ित को मुआवजा. मुख्यमंत्री व वरिष्ठों के आदेश पर भी भारी पड़ रहा सुविधा शुल्क का खेल

मुख्यमंत्री का आदेश भी नहीं दिला पाया अग्निकाण्ड पीड़ित को मुआवजा.
मुख्यमंत्री व वरिष्ठों के आदेश पर भी भारी पड़ रहा सुविधा शुल्क का खेल
हैदरगढ़, बाराबंकी। प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद अग्नि पीड़ित को तीन माह में मुआवजे की राशि देने का फरमान सुनाया गया था लेकिन हैदरगढ़ के सड़वा गांव में बसंत लाल पाठक पुत्र चंद्रकेश के घर पर 3 माह पहले आग लगने के बाद घर की गृहस्थी जल जाने और गाय की आग लगने से मौत हो जाने के बाद गरीब किसान को सरकारी सहायता के रूप में फूटी कौड़ी भी नहीं मिली है. गाय की मौत के बाद का पोस्टमार्टम भी हुआ था सारे कागजात प्रशासन को दे दिए गए थे लेकिन फिर भी तीन माह से अधिक समय बीत जाने के बाद भी प्रशासन द्वारा कोई भी सहायता एक गरीब किसान को मुहैया नहीं कराई गई जिससे कि वह अपने जीवन का गुजर बसर कर सके.


Popular posts
वाराणसी : पिता ने तीन बेटियों के साथ की आत्महत्या, सट्टेबाजी के कारण डूबा था लाखों के कर्ज में
Image
ग़ैर जनपद से आए व्यक्ति के परीक्षण कराने का बिरोध करने पर कार्यबाही
आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है इस फोटो को एक एक व्यक्ति एवं एक एक ग्रुप में पहुंचा दो ये बच्चा किसकी है कोई पता नही लग पा रहा है और ये बच्चा अभी *सदर बाजार* थानेआगरा उत्तर प्रदेश में है,,,दया अगर आपके अंदर है तो इसे इगनोर मत करना ।
Image
लॉकडाउन  में  भी  बेच रहे थे शराब , पांच लोग गिरफ्तार । 
निजी विद्यालयों कॉन्वेंट स्कूलों की फीस ना जमा किए जाने के संबंध में मांग
Image