अतिक्रमण के बोलबाले मे राहगीरों व यात्रियों की बढ़ी तकलीफें
 

रामसनेहीघाट, बाराबंकी। क्षेत्र के भिटरिया चैराहे पर बने छोटे हनुमान गढ़ी मंदिर के आसपास मार्ग की पटरी व मंदिर के आसपास अतिक्रमण कर तमाम दुकानदारों ने लोगों के बताए अनुसार मंदिर के पुजारी आदि की मिलीभगत से अवैध कब्जेदारों का वर्चस्व हो गया है। लोगों की मानें तो अतिक्रमणकारियों में मुख्यतः फल विक्रेता सहित तमाम अन्य दुकानों को वहां अतिक्रमण करने के लिए सुविधा शुल्क के लालच में मंदिर स्टाफ के ही कुछ लालची लोगों ने प्रेरित किया है। 

जिसमें राहगीरों यात्रियो के लिए लगाए गए पयाऊ व अन्य सुविधाओं का फायदा भी राहगीर व यात्रिओ को नहीं मिल पा रहा है। यात्रियों ने बताया कि लगाया गया वाटरकूलर फल की दुकान के पीछे हो जाने के कारण निष्प्रयोज्य सा हो गया है।

पटरी दुकानदारों के अतिक्रमण व अवैध कब्जे के कारण एक तरफ तो राहगीरों का पैदल चल पाना जहां हैदरगढ़ से आने वाले भारी वाहनों के आवागमन से उस स्थान पर ट्रैफिक अवरुद्ध भी होता है स्कूलो में छुट्टी होने पर बच्चों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ट्रैफिक ज्यादा होने के कारण पटरी पर राहगीरों के पैदल चलने वाली जगहों पर हुए अतिक्रमण के काारण पैदल बच्चे व बुजुर्ग भी काफी कशमकश बाद नहीं निकल पाते हैं। अतिक्रमण के चलते बच्चा, बुजुर्गों महिलाओं को पटरी छोड़ मुख्यमार्ग पर होकर निकलना पड़ता है जिससे उनके दुर्घटनाग्रस्त होने की संभावनाएं काफी बढ़ गई हैं। यही नहीं हुए अतिक्रमण ने राहगीरों से उनके आराम का स्थान भी छीन सा लिया है। पुराने लोगों की मानें यहीं पर लगे पीपल के पेड़ के नीचे लोग अक्सर रूककर सुस्ताते थे तो कोई पैदल राहगीर इसकी शीतल छांव में झपकी भी लेकर अपने आपको तरोताजा महसूस करता था। 

भिटरिया निवासी नीरज शुक्ला ने मंदिर के इर्द-गिर्द पुजारी द्वारा लगवाए जाने वाले फलों के ठेला को हटाए जाने के लिए उपजिलाधिकारी राजीव कुमार शुक्ला से गुहार लगाई है कि पूजारी जी द्वारा अवैध तरीके से मंदिर के पास दो ठेले की दुकान लगवाया जाता है स्थाई रूप से लगाई जा रही है सड़क पर ठेले उन पर कठोर कार्यवाही सुनिश्चित कर मंदिर के परिसर को पूरी तरह खाली कराया जाए क्योंकि मंदिर का परिसर नेशनल हाईवे से जुड़ा हुआ है यहां पर बड़ी छोटी हर सेकंड में गाड़ियां निकलती है राहगीर को जान बचाने के लिए कही सड़क पर जगह नहीं मिल रही है इसलिए मंदिर के पास लग रहा है फलों के ठेले को तत्काल प्रभाव से हटाये जाने का कार्य करके जनहित को राहत दिलाने की गुहार लगाई है।